G20 मीटिंग में बोले पीएम मोदी, भारत में भ्रष्टाचार के खिलाफ है जीरो-टॉलरेंस की सख्त नीति

Uttarakhand Press 12 August 2023: पीएम मोदी कोलकाता में हो रही G20 एंटी-करप्शन वर्किंग ग्रुप की तीसरी और अंतिम बैठक में अपने वर्चुअल संबोधन में शनिवार को कहा कि भ्रष्टाचार का असर गरीबों और हाशिए पर रहने वाले लोगों पर सबसे ज्यादा पड़ता है। उन्होंने यह भी कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत सरकार की जीरो-टॉलरेंस की सख्त नीति है। भारत इस समय G20 का अध्यक्ष है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कोलकाता में हो रही G20 एंटी करप्शन वर्किंग ग्रुप की तीसरी और अंतिम बैठक को वर्चुअली संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत में भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो-टॉलरेंस की सख्त नीति है।

‘भ्रष्टाचार से लड़ना हमारा कर्तव्य है’:
कोलकाता में G20 भ्रष्टाचार विरोधी मंत्रिस्तरीय बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि भारत में भ्रष्टाचार का सबसे ज्यादा असर गरीबों और हाशिये पर रहने वाले लोगों पर पड़ता है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार से लड़ना हमारे लोगों के प्रति हमारा पवित्र कर्तव्य है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि विदेशी संपत्तियों की वसूली में तेजी लाने के लिए, G20 देश गैर-दोषी आधारित जब्ती का उपयोग करके एक उदाहरण स्थापित कर सकते हैं। इससे उचित न्यायिक प्रक्रिया के बाद अपराधियों की त्वरित वापसी और प्रत्यर्पण सुनिश्चित होगा।

पीएम मोदी ने इस बात पर जताई खुशी:
पीएम मोदी ने कहा, ”मुझे खुशी है कि कानून प्रवर्तन एजेंसियों के बीच अनौपचारिक सहयोग पर सहमति बन गई है, क्योंकि इससे अपराधियों को कानूनी खामियों का फायदा उठाने से रोका जा सकेगा।” उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार संसाधनों के आवंटन को प्रभावित करता है, बाज़ारों को विकृत करता है।

Read Previous

Uttarakhand News: परिवहन विभाग ने सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए चलाया अभियान, 66 वाहनों पर कार्रवाई

Read Next

पीएम मोदी ने लोगों से हर घर तिरंगा अभियान में शामिल होने का किया आह्वान, सेल्फी अपलोड करने की अपील

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *