Roorkee: बुखार से महिला व दो बच्चों की मौत, क्षेत्र में एक सप्ताह में दम तोड़ चुके सात लोग, अब घरों पर जाने से कतराने लगे लोग

Uttarakhand Press 27 October 2023: क्षेत्र के गांवों में बुखार से लोगों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। स्थिति यह कि पिछले चार दिनों से हर दिन बुखार से पीड़ित लोग दम तोड़ रहे हैं। बुधवार की रात से बृहस्पतिवार दोपहर के बीच बुखार से पीड़ित एक महिला और दो बच्चों ने दम तोड़ दिया। एक सप्ताह में सात लोगों की जान बुखार से गई है।

नसीरपुर कलां की ग्राम प्रधान गुलनाज अंसारी ने बताया कि बुधवार को गांव के मंजनू की पत्नी जमातून (50) और घनश्याम के बेटे सन्नी (13) की बुखार से मौत हो गई है। इसके अलावा, पदार्था के इसरार की 10 वर्षीया बेटी साहिला की भी बुखार से मौत हो गई। ये लोग पिछले कई दिनों से बुखार से पीड़ित थे। इनका इलाज क्षेत्र के निजी अस्पतालों में चल रहा था।

नसीरपुर कलां में इन तीन मौतों से क्षेत्र में दहशत का माहौल बना हुआ है। परिजन में कोहराम मचा हुआ है। बता दें कि एक माह के भीतर बादशाहपुर, पदार्था, नसीरपुर कलां, एकड़ कलां, बहादरपुर जट आदि गांवों में कई लोग बुखार से पीड़ित हैं।

एक माह के भीतर नौ मौतें:
एक माह के भीतर पथरी क्षेत्र में बुखार से नवीन सैनी उर्फ काका निवासी बादशाहपुर, नवाब व आहिल निवासी नसीरपुर कलां, सुमेर चंद निवासी एकड़ कलां और पप्पू कश्यप व पवन कुमार निवासी बहादरपुर जट की भी मौत हो चुकी है।

घरों पर जाने से कतराने लगे लोग:
क्षेत्र रे जिन गांवों में लोगों में बुखार फैला है उन गांवों में लोगों के घरों में दूसरे लोग कतरा रहे हैं। ग्रामीणों ने डीएम और सीएमओ से गांवों में बुखार की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य चिकित्सा शिविर लगवाने की मांग की है। ग्रामीण गांवों में कीटनाशक दवा का छिड़काव की भी मांग लोग कर रहे हैं।

Read Previous

Uttarakhand: भ्रष्टाचार का एक और मामला, उद्यान विभाग में हुआ करोड़ों का घपला, अब हाईकोर्ट ने CBI को दिया जांच का आदेश

Read Next

Uttarakhand: रामनगर के जंगल में संदिग्ध हाल में पेड़ पर लटका मिला युवक का शव, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *